Today's economic breaking news. सरकार ने आर्थिक पैकेज के लिए किये बड़े ऐलान।



कोरोनावायरस के कारण देश को हो रहे बड़े आर्थिक नुकसान को देखते हुए, एवं Lockdown होने के कारण सभी तरह के सरकारी, प्राइवेट संस्थान बंद होने के कारण होने वाले काम और पैसे के नुकसान देखते हुए, आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कुछ आर्थिक पैकेज का ऐलान किया, जिसमें Income Tax return,GST, सबका विश्वास स्कीम,Auditors reports,MCAscheme,newly Incorporated company, Aadhar -PAN linking जैसे महत्वपूर्ण चीजों में, जनता और industrialist दोनों के लिए एक अच्छी खबर है।                                                                   सरकार ने किया बड़ा आर्थिक ऐलान।

1.Income tax return
                            सरकार ने किया बताया कि इनकम टैक्स रिर्टन जोकि financial year 2018-19 से संबंधित था,और 31 march 2020 की अंतिम तारीख थी, अब उसकी रिर्टन की तारीख को बढाकर 30 जून 2020 तक बढाया गया, इसके साथ ही, इसके साथ ही TDS को 12% से घटाकर 9%  किया गया।        
 
2.आधार-पैन लिंक।                    
            वित्त मंत्री के अनुसार आधार - पैनकार्ड की लिंक तारीख को बढाकर भी 30 जून कर दिया जायेगा, जिससे किसी को भी दिक्कत नहीं उठानी पड़े।

3.विवाद से विश्वास
    विवाद से विश्वास स्कीम, की फाइल डेट भी 30 जून तक की गई है,पहले 31 मार्च तक थी।इसके साथ ही, filing of appeal, statement Reports, Investment of role over capital gains under IT act, wealth tax,Black money act, आदि की समयसीमा को 20 march से बढाकर 30 June 2020 तक की गई है।

4.GST (Good's and service act)

GST return, की मार्च,अप्रैल, और मई, की तारीक को बढाकर 30 June 2020 तक की गई ।इसके साथ ही वे कंपनी जिनका सालाना turnover 5 crore से अधिक है, उनसे penalty,No late fee नहीं ली जायेगी, हालांकि rate of interest return 9% कर दिया गया है।

5.विश्वास एवं MCA registration

सबका विश्वास के अंतर्गत वे वस्तुओं को जोड़ा जाता है, जिनकी बहुत महीनों या सालों से payment pending हो रखी है। और इनकी लास्ट डेट 31 मार्च, से बढाकर 30 जून 2020 जिनकी 1,5000000 करोड़ turnover होगी, उनसे कोई intrest नही लिया जायेगा ।इसके साथ ही MCA registry का समय दिया गया है। auditors reports मे भी कुछ बदलाव किया गया है।

6.Newly Incorporated companies

Newly Incorporated companies जिनको commencement of business की डेट जोकि 6 महीने की डेट दी जाती है, उसे 6 महीने और बढा दिया गया है।

निष्कर्ष.
                    निष्कर्ष के तौर पर यह कह सकते हैं कि यह आर्थिक पैकेज scheme के लिहाज से तो अच्छा है, जिसमें Income tax return,GST,Newly Incorporated companies, के लिए अच्छी योजना बनायी गयी है, परन्तु कोरोनावायरस से जो लोग पीडित है, खासकर गरीब परिवारो के लिए जो रोज कमाते, रोज खाते हैं, उनके लिए अगर विशेष आर्थिक पैकेज दिया जाता, तो और अच्छी बात होती, खैर सरकार ने ऐसे विशेष तबके जिनको बंदी के दौरान नुकसान हो रहा है, उनको आर्थिक पैकेज देने की बात कही है, जोकि कुछ ही दिन में बताया जाएगा।                                                                            

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां