What is NSE and BSE? NSE और BSE में क्या अंतर है?

क्या आप जानते हैं कि, What is NSE and BSE. या फिर NSE और BSE में  क्या अंतर हैं? यदि नहीं जानते  तो आपको बता दें कि यह दोनों ऐसेे factor हैं, जिनके आधार पर ही शेयर बाजार की दिशा और दशा और देश की अर्थव्यवस्था का अनुमान लगाया जा सकता है, और इसलिए आज का topic NSE और BSE  पर ही आधारित है।इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको NSE and BSE से संबंधित समस्त जानकारी देेंगेें।


What is NSE and BSE ? (Basic theory)-


NSE and BSE दोनों ही अलग होकर भी एक ही काम करते है और वह काम है , भारतीय शेयर बाज़ार को दिशा और दशा प्रदान करना , और यह कार्य करने के लिए दोनों को अलग अलग सूचकांक (Index) दिए गए हैं , NSE के सूचकांक को Nifty के नाम से जाना जाता है , और BSE के सूचकांक को SENSEX और निवेशक शेयर बाजार बांड , Debenture की खरीद फरोख्त के लिए NSE के Nifty या BSE के Sensex में register कराना पड़ता है, तभी वह securities के खरीद-फरोख्त में हिस्सेदारी लेने के लिए Legal person और Company की पहचान पाता है। इसके साथ ही एक और term आता है, NSE और BSE की गणना का तो आपको बता दें कि NSE और BSE की पूंजी की गणना के लिए Free Flotation method या फिर Capitalisation method का सहारा लिया जाता है।


 What is NSE?NSE क्या है?                         

What is nse and bse

NSE यानी कि National stock exchange भारत का सबसे बड़ा Stock exchange हैं, जिसका Headquarter मुंबई मे located है। National stock exchange (NSE) को 1991 economic reform के बाद 1992 में स्थापित किया गया था।                                                                                             NSE विश्व का 11वाँ बड़ा (as on 2018) पूूंजी बाजार है, जिसकी पूूंजी छमता 2.27 trillion USD के  बराबर है,NSE भारत का पहला stock exchange है, जिसकी  शुरुुआत से ही भारत में भी 1992 में पहली बार securities  की online trading की शुरुआत हुई थी।

NSE के गणनात्मक सूचकांक को Nifty के नाम से जाना जाता है, और इसमें करीब 1500 से ज्यादा कंपनियां लिस्टेड हैं , फिर भी National Stock exchange की दिशा Marketcap की शीर्ष 50 Companies पर ही अधिकतर आधारित होती है , जिन्हें Nifty 50 के नाम से जाना जाता है।                                              

What is nse and bse

What  is BSE? BSE  क्या है ?-                                                                       

BSE यानी कि Bombay stock exchange भारत का ही नहीं एशिया का सबसे पुराना Stock exchange है, BSE का headquarter मुुंबई में Dalal street नाम की जगह पर है। Bombay stock exchange की स्थापना 1875 मे हुई थी, जिसे stock broker association,mumbai  के द्वारा किया गया था, बाद में Bombay stock exchange contract regulation act1956 के,तहत भारत के पहलेstock exchange के रूप में मान्यता दी गई थी,. Bombay stock exchange की पूंंजी सूचकांक को SENSEX के नाम से जाना जाता है, जिसकी शुरुआत 1986 के समय में की गई थी, हालांकि भारत के सबसे पुराने stock exchange होने के बावजूद BSE में online trading की शुरुआत सन् 1995 में हुई थी।

SENSEX Bombay stock exchange का आधार है, जिसमें करीब 5000 companies के लगभग  listed है, लेकिन Bombay stock exchange की दिशा - दिशा marketcap की शीर्ष 30 companies पर  ही अधिकतर आधारित होता है, जिन्हें Sensex 30 के नाम से जाना जाता है।

NSE और BSE में  क्या अंतर है?-

NSE भारत का सबसे बड़ा stock exchange है, वही Bombay stock exchange भारत का सबसे पुराना stock exchange है।          National stock exchange NSDL (National securities depository limited) कें अंतर्गत आता है, तो वहीं Bombay stock exchange CSDL (Central securities depository limited) कें  अंतर्गत आता है, National stock exchange  की बाजार गणना Nifty कें  अंतर्गत होतीं है, वहीं Bombay stock exchange की गणना Sensex कें अंतर्गत होती हैंं।


NSE and BSE और भारतीय अर्थव्यवस्था का संबंध?-

NSE और BSE भारत के दो stock exchange हैं, जिनकी चाल अर्थव्यवस्था को प्रभावित करती है, और अर्थव्यवस्था की चाल NSE and BSE को प्रभावित करती हैं, यदि NSE और BSE दोनों का सूचकांक ऊपर की ओर जाता है, तो इसका मतलब अर्थव्यवस्था सही दिशा मेें growth कर रही है, और वहीं अगर NSE औरBSE का सूचकांक नीचे की तरफ जाता है, तो अर्थव्यवस्था की growth rate भी सही गति की तरफ नही बढती, और ऐसे में देश की अर्थव्यवस्था पर सवालिया निशान खडे हो जाते हैं। तो इन बातों के आधार पर कहा जा सकता है कि NSE,BSE और अर्थव्यवस्था में सीधा संबंध है, यानी कि Direct relationship है।             

Final word-                                                  My friends final word के तौर पर मैं यही कहना चाहता हूं कि, आज आपने  What is NSE and BSE एवं NSE और BSE मे क्या अंतर है? के बारे में जाना अगर आपको जानकारी अच्छी लगी तो इसे शेयर करें, ताकि अधिक लोगों तक यह अनमोल जानकारी पहुंचे।

 इसे भी पढें:-Bull and Bear in stock market. शेयर बाजार में तेजडिया और मंदडिया क्या है?



टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां