"Hello" दोस्तों, आज आप Airthmetic logic unit यानी की ALU in hindi के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे। जिस प्रकार हमारे शरीर में दिमाग होता है। जो सोचने और समझने का काम करता है। ठीक उसी प्रकार हमारे Computer में Processor होता है। जिसे Computer का दिमाग कहा जाता है। प्रोसेसर का Computer System में वही महत्त्व है। जो कि एक मानव शरीर में मस्तिष्क का जिस प्रकार मस्तिष्क मानव शरीर का संचालन करता है, उसके प्रत्येक अंग पर नियंत्रण रखता है ठीक इसी प्रकार प्रोसेसर भी Computer System की प्रत्येक युक्ति एवं उसके प्रत्येक भाग का संचालन एवं नियंत्रण करता है।

Alu in hindi ALU kya hai


Processor CPU में Motherboard के ऊपर लगा होता है। जो Computer में सोचने , समझने और निर्णय लेने का कार्य करता है। लेकिन यह सब करने के लिए उसे ALU की  जरुरत पड़ती है। तो आइये आज ALU in hindi के बारे में जान लेते हैं।

ALU ka Full form- Arithmetic Logic Unit //


ALU in Hindi/Airthmetic logic unit क्या है?/What is ALU in Computer➙


ALU को Computer का Power House भी कहा जाता है। कन्योकी ALU जितना Power full होगा Computer उतना ही Power full होगा। ALU को गड़नाये करने के लिए बनाया गया था। ALU को INTEGER युनिट भी कहते हैं। यह सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट के तीन भागों जिसमे कन्ट्रोल यूनिट और मेमोरी यूनिट भी शामिल हैं, में से एक है।अंकगणितीय तर्क इकाई ALU का मुख्य कार्य है। ALU अंकगणितीय गणनाएं जैसे कि गुणा , भाग , जोड़ , घटाना और तर्क संबंधी कार्य ALU ही करता है।CPU में विभिन्न प्रकार की अंकीय गड़नाये होती हैं। ALU , यह जोड़ने , घटाने , गुणा करने भाग करने , तथा विभिन्न प्रकार की जटिल क्रियाओं को करने का कार्य भी करती हैं। यह लॉजिक भी लगा सकती हैं। जो AND तथा OR क्रियाओं पर निर्भर करते हैं। यँहा पर Logic से मतलब है।-1.दो संख्याओं की तुलना करना व यह निश्चित करना की कौन सी बड़ी है।2.यह तय करना की दी हुए शर्त सत्य है या फिर असत्य।प्रोसेसर कितनी प्रकार की गणितीय एवं तार्किक क्रियाये कर सकता है यह ALU की संरचना पर निर्भर करता है। ALU में जिन Operation को करने के लिए सर्किट लगे होंगे वह प्रोसेसर उतने ही Operation कर सकेगा। किसी Computer के ALU भाग में कुछ विशेष गणनाओं हेतु अतिरिक्त सर्किट लगातार उसे वैज्ञानिक प्रयोगों के लिए विशेष रूप से निर्मित किया जा सकता है।प्रत्येक प्रोसेसर के ALU भाग में मूल गणितीय क्रियाओं (+,-,%,÷,×) तथा मूल लॉजिक क्रियाओं (=,) के लिए सर्किट लगे होते हैं।

How ALU is helpful in CPU/ALU की कार्यविधि➞


प्रोसेसिंग के आरम्भ में सभी निर्देश एवं डाटा आइटम मुख्य समृति में स्टोर रहते हैं। जब किसी निर्देश को क्रियान्वित करना होता है तो उसे सर्वप्रथम CPU के रजिस्टर भाग में ले जाया जाता है, यही वह निर्देश गणितीय अथवा तार्किक क्रिया के लिए है तो उस निर्देश में बताये गए ओपरेंड(जिन पर ऑपरेशन होना है) तथा ऑपरेशन कोड (जो ऑपरेशन होना है) की जानकारी ALU को पास कर दी जाती हैं। ALU किये जाने वाले ऑपरेशन  सर्किट को ऑपरेशन का मान input कराता है। सर्किट ऑपरेशन करता है तथा परिणाम (आउटपुट) मान Output ragister को देता है। ALU के साथ एक्युमुलेटर रजिस्टर भी जुड़ा होता है। गड़नाओ के मध्य में प्राप्त होने वाले माध्यमिक परिणाम ALU एक्युमुलेटर में स्टोर करता है। तथा वंही से उन्हें पुनः इनपुट के रूप में ग्रहण करता है। गणना अथवा ऑपरेशन पूर्ण हो जाने के पश्चात प्राप्त अंतिम परिणाम Output रजिस्टर को ट्रांसफर कर दिया जाता है, जंहा से Output डाटा मुख्य memory में स्टोर होता है अथवा Output Unit को चला जाता है। तो इस प्रकार ALU कार्य करता है। आइये अब थोड़ा ALU और CU में क्या अंतर है इसके बारे में जान लेते हैं।

Difference between CU and ALU in Hindi(कन्ट्रोल युनिट और अरिथमेटिक लॉजिक युनिट में अंतर)➙

1.CU (Cantrol Unit) एक नियंत्रण इकाई है। यह निर्देशों को डिकोड करता है। CU , CPU के अन्य सभी आतंरिक घटकों को नियंत्रित करता है। जबकी ALU अंकगणितीय और तर्क इकाई है। जो सभी अंकगणितीय और तार्किक संचालन करता है। जैसे- जोड़ , घटाव , तार्किक आदि।

2.CU input युनिट से डाटा ग्रहण कर ALU व Memory में भेजने का आदेश देती है।

3.CU , ALU से प्राप्त परिणाम को Main memory व निर्गम युक्तिओं में भेजने का आदेश देती हैं।

4.यह प्रोग्राम को स्मृति (Memory)में संग्रहित कर , उसके दिशा-निर्देशों को एक के बाद एक प्राप्त कर तथा समझकर उनके अनुसार विभिन्न आदेश देती है।

Conclusion➣

Helllo Frinds , आज आपने इस Post में ALU in hindi की जानकारी के साथ-साथ CU और ALU के अंतर के बारे में भी जाना। मुझे उम्मीद है की यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। आपको कैसी लगी हमें Comment में बता सकते हैं।