Operating system क्या है , इसके प्रकार और यह कैसे काम करता है।

Operating system kya hai

आज के समय में लगभग सभी लोग इस नाम से जरूर परिचित होंगे क्योकि आजकल सभी के पास Computer या smart phone होता है। हम जब भी किसी Computer या Smart Phone के बारे में बात करते है तो Operating system का नाम जरूर लिया जाता है। जिस प्रकार हम इंसान में दिल होता है ठीक उसी प्रकार Computer या Smart Phone मे होता है। जिसे Tech की भाषा में Operating system कहा जाता है।लेकिन क्या आप जानते है  Operating system क्या है यह कितने प्रकार का होता है और कैसे काम करता है।आईए जानते हैं।



Operating system क्या है?⇛



Operating System सॉफ्टवेयर , प्रोग्रामों , और Computer की समस्त क्रियाओं को संचालित और नियंत्रित करता है।Computer System के Hardware स्वयं अपने बल पर कार्य नही कर सकते और ना ही एक दूसरे से तालमेल स्थापित कर सकते हैं। ये सभी उपकरण Operating system द्वारा दिए जाने वाले इलेक्ट्रॉनिक सिग्नलों के द्वारा संचालित होते हैं।इसके अलावा Operating system User और Computer के बीच इंटरफ़ेस भी उपलब्ध कराता है।अर्थात हम Computer को आवश्यक कमांड Operating system के माध्यम से ही देते हैं। और Computer को दिए जाने वाले Output भी Operating System के माध्यम से ही Output डिवाइस तक पहुँचते हैं।





Operating System Computer के Memory और प्रोसेसिंग का प्रबंधन करता है। कोई भी Computer बिना Operating system के नही चल सकता है।कन्योकी Operating system Computer का सबसे जरुरी प्रोग्राम है। जो की सभी साधारण और महत्वपूर्ण कार्य जैसे keyboard द्वारा इनपुट किये जा रहे keys को समझना और Output को Monitor screen पर भेजना हार्डडिस्क पर Files और डायरेक्टरी को मैनेज करना। और Computer के सभी पार्ट्स से संचार स्थापित करना।


Operating System को आप तभी देख सकते हैं जब आप Switch Off या Switch On करते है। आप के Computer मे जितना भी Software Install है चाहे वो MS office, Photoshop, Games या Media player हो सभी को रन करने के लिए Main Software की जरुरत होती है जिसे हम Operating System कहते हैं।


Characteristics of Operating systems➞


1.Operating system  बहुत सारे Program के Collection को कहा जाता है, जो की दूसरे Program को चलाता है।

2.यह सभी Input तथा Output Device को Control करता है।

3.सभी Application Software को Run करने की जिम्मेदारी Operating System की होती है।

4.Operating System सभी Process को Allocate या Deallocate करता है।

5.System मे हो रहे Error के बारे में OS ही बताता है।User और Application Software के बीच User Interface बनाता है।

Functions of operating systems➙

वैसे तो Operating system के बहुत से काम हैं।लेकिन उनमें से तीन मुख्य कार्य है-Computer के Resources को manage करना, User Interface Establish करना और Application Software को Execute तथा सेवाएं प्रदान करना। Operating system बहुत सारे काम करता है। आगे आपको इनके कार्य के बारे में पढ़ने को मिलेगा।

1.Resources management➞


OperatingSystem का Resource management function, Computer Resources जैसे की CPU Time,Main memory,Secondary Storageऔर Input तथा Output Device को उपयोग करने के लिए Allocates करना।सरल शब्दों में कहे तो Operating System कुसलतापूर्वक System के अलग अलग Parts को उपयोग करने के लिए manage करता है।


2.Data management➞

Data management, Data का पता रखता है। चाहे वह Disk में हो या अन्य किसी Storage मे।Application Software Data को Accessकरता है। File के नाम से और विशेष स्थान जंहा की Data Store रहता है।लेकिन Operating Syatem को ठीक-ठीक पता रहता है। कि Data कँहा पर स्टोर है। Application Software को जब किसी भी Data को Read या Write करने की जरुरत पड़ती है, तो Operating System ही उस डाटा को प्राप्त कर के देता है।

3. Job management➞

Computer Technology मे Job का मतलब Service होता है।Job Management मे Operating System क्रम(Order)और समय((Time)को नियंत्रित करता है।जिसमे Application Software चलाया जाता है।

4.Task management

आज कल सभी Operating System, Multitasking होते हैं। इसका मतलब O.S की क्षमता है की वह एक साथ कई Program को Execute कर सके।Operating System इन सभी Task को Manage करता है।


5. Device management➞

System के अलग अलग devices को चलाने के लिए Driver की जरुरत पड़ती है। जो Computer Device को चलाता है। जैसे कि Wifi के लिए Wifi Drivers,Graphics के लिए Graphik Driver इन सभी Drivers को Operating System ही चलाता है।

6.User Interface management➞

User, Operating System के साथ Interacts करता है User Interface  के मध्याम से। और इस User Interface को  Manage भी Operating System ही करता है।

  Types of Operating systems⇛

आज कल बहुत ही तेजी से Techonology का विकाश हो रहा है ठीक इसी प्रकार Operating System को भी din प्रतिदिन अधिक Fast और Advance बनाया जा रहा है ताकी किसी भी छेत्र में बहुत ही आसानी से इसका इस्तेमाल किया जा सके। Operating System मुख्य रूप से पांच प्रकार के होते है।

1. Simple batch system➞

यह सबसे पुराना Operating System है जिसमे, User और Computer के बीच कोई Direct Interactionनही होता था इस System में User को Task या Job करने के लिए उन्हें पहले कोई System या यूनिट में लाना पड़ता था और उसके बाद Computer Operator के पास Submit करना पड़ता था।इस System मे बहुत सारे Task को एक Batch या Line में Computer को दिया जाता था और कई दिनों या कई महीनो मे Task Procces होती थी और एक Output Device मे Output store hota था इस System मे Task को Batch मे Process किया जाता था इसलिए इसे Batch Operating System कहा जाता था।

Disadvantage of Batch system➙


1.इसमे User और Computer के बीच Direct Interaction नही होता था।
2.इस System मे जो Task पहले आता था। उसे पहले Process किया जाता था। जिसके चलते User को लंबे समय तक Wait करना पड़ता था।

2. Multiprogramming batch system➞

इस Operating system मे Main memory से एक समय मे एक ही Task को उठाया जाता था और उसे ही Execute किया जाता था और अगर Processing के दौरान Task को किसी भी प्रकार का Input/Outputकी जरूरत होती थी तो Operating System दूसरे Task को CPU मे भेज देता था, जिसके वजह से पहले वाले Task का Input/Output हमेसा Busy रहता था।इस OS मे अगर बहुत सारे Task Line में रहते थे। तो Operating System तय करता था पहले कौन सा Task Process किया जायेगा। इस  Operating System मे CPU कभी भी बेरोजगार होकर नही रहता था।Time Sharing System भी Multiprograming System का ही एक हिस्सा है।Time Sharing System मे Response Time काफी कम होता था Multi Programing System की तुलना में।

3. Multiprocessing batch system➞

Multiprocessing Operating system मे एक से अधिक processor होते है जो एक ही समय में हो रहे Task को Proccess करते हैं। मेनफ़्रेम कम्यूटर और सुपर कंप्यूटर Multi Processing System के उदाहरण हैं।Multi Processing System में Multi Programing और Multi Tasking के सिद्धान्त का उपयोग किया जाता है, जो एक ही समय मे Process हो रहे सभी Task को आपस में मिलकर Process करता है।इसमें सभी Processor एक दूसरे से जुड़े रहते हैं और साथ मिलकर काम करते हैं, इसलिए Multiprocessing System मे Processing Speed bahut ही तेज होता है।

Advantage of multiprocessing system➙


1.इसमे Multi Processor का इस्तेमाल किया जाता है इसलिए इसका speed बहुत ही तेज होता है।

2.इसमे एक साथ कई Task को Process किया जाता सकता है।

3.इस OS को Task को sub-Task में बांटा जाता है और सभी sub Task को को Process करने के लिए अलग अलग Processor को दिया जाता है।

4.Distrubuted Operating system➞

Distributed Operating system एक ऐसा Operating System है जो Communication के द्वारा एक से अधिक Computer और Hardware को manage करता है।इस Oerating System के पास बहुत सारे Functions होते हैं-यह सभी Distributed File System को Manage करता है, यह Hardware और Software के बीच Problem को देखता है, यह खुद और Application Program के बीच Connection Manage करता है Distributed Operating system User को एक ऐसा User Interface  देता है, जैसा की User एक Single Computer के साथ Interact कर रहा हो।                                                

1.जितने भी दूर के Resource है उनको आसानी से इस्तेमाल किया जा सके।

2.इनमे Processing बहुत ही Fast होता है।जो Main System है उसपे load कम होता है कन्योकी Load Distribute हो जाता है।

5. Real time Operating system➞

Real Time Operating system सबसेअधिक Fast और सबसे अधिक Advance Operating System है जो Real Time मे Task को Process करता है।इसका मतलब है जिस समय Task मिला उसी समय Process करता है।सोचिये अगर Missile, Rocket याSatellite छोड़ते Time जरा सा भी देरी हो जाये तो कितना बड़ा अनर्थ हो सकता है। Real Time Operating system दो प्रकार के होते है

Hard Real time operating system➝

इस Operating System मे Task को समाप्त करने के लिए जो समय दिया जाता है इसे उसी समय के अन्दर Task को समाप्त करना पड़ता है।

Soft Real time operating system➝

इसमे समय की पाबन्दी थोड़ी कम होती है लेकिन इसमें अगर एक Task चल रहा हो और उसी Time कोई नया Task आ जाये तो Soft Real Time Operating system सबसे पहले नए Task ko समाप्त करता है।.     

Last word ➣

आज आपने Operating System के बारे मे पूरी जानकारी प्राप्त कर ली है उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। आप Computer , Technology से Related जो कुछ भी जानना चाहते हैं। हमें Comment में बताएं। और यह जानकारी आपको कैसी लगी यह भी हमें जरूर बताएं।

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां

Feel Hindi love Hindi.
You are very nice guy.
Please Do not enter any spam link.